Views > Views

कॉरपोरेट > टेक्नोलॉजी

ज़िंदगी बदलने के लिए सैमसंग है तैयार, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस दिखाएगा कई चमत्कार

on 08-11-2017

सॉन्गी कू के द्वारा-

 

आज लगभग हर इंडस्ट्री में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के ज़रिए बदलाव लाए जा रहे हैं। रिटेल और एंटरटेनमेंट से लेकर ट्रांसपोर्टेशन और हेल्थकेयर तक, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस हमारी दुनिया में इस तरह से शामिल हो रहा है कि हमारे दैनिक जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आ रहे हैं।

 

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स में हम ओपन, इंटेलिजेंट और कनेक्टेड वर्ल्ड तैयार करने के सपने के साथ काम रहे हैं। ऐसा वर्ल्ड जहां आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक अहम रोल अदा करेगा, जहां एक दिन हमारे फोन्स से लेकर हमारे रेफ्रिजरेटर तक में किसी न किसी तरह की इंटेलिजेंस होगी ताकि हम बिना किसी रुकावट के अपनी आस-पास की चीज़ों से संपर्क बना सकें। कंपनी को अपने लक्ष्य के करीब लाने के लिए, हम उन टेक्नोलॉजी को विकसित करने के प्रयास में लगे हैं जिसकी मदद से हम इंटेलिजेंस की ओर पहला कदम बढ़ा पाएं।

 

 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस- अभी हम कहां है और किस तरफ बढ़ रहे हैं?

 

 

 

1950 के दशक में जब इसकी पहली बार कल्पना की गई थी, तब से अब तक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने हमारी ज़िंदगी में गहरा प्रभाव डाला है, हमें प्रैक्टिकल स्पीच रेकोग्निशन दिया है, पहले से बेहतर वेब सर्च और सेल्फ-ड्राइविंग गाड़ियों जैसे इनोवेशन पेश किए हैं।

 

इस महीने की शुरुआत में, गूगल के अल्फागो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस प्रोग्राम ने चीन की प्राचीन बोर्ड गेम गो में बिना किसी मानव सहायता के सिर्फ 3 दिन में माहिरता हासिल करके सुर्खियां बटोरीं थीं। लेकिन ये पढ़ाव डीप ब्लू के शतरंज के ग्रैंडमास्टर गैरी कास्परोव को हराने के ठीक दो दशक बाद आया है, जिससे ये साबित होता है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने न सिर्फ कम समय में एक लंबा सफर तय कर लिया है बल्कि वो उस सफर पर निकल चुका है जहां सभी तरह की इंडस्ट्री के लिए ऐसे अवसर तैयार किए जा रहे हैं जिनके बारे में पहले सोचा न गया हो और जो हमारे जीवन में नए मूल्यों को जोड़ दें।

 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की दुनिया में हाल ही में आई आंधी के पीछे कई कारण हैं जिनमें GPUs की उपलब्धता, असीमित डाटा, ज़्यादा एडवांस्ड मशीन और डीप लर्निंग एल्गोरिदम शामिल हैं। इसके अलावा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में निवेश 3 गुना हो गया है, 2013 में 26 अरब डॉलर से बढ़कर 2016 में 39 अरब डॉलर तक, जो नई इंटेलिजेंट टेक्नोलॉजी को विकसित करने की प्रेरणा देता है।

 

इतनी प्रगति के बावजूद, ऐसी कई चुनौतियां हैं जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी के विकास में बाधा बनने का काम कर रही है, जिनमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इंडस्ट्री में अपेक्षित टैलेंट ना होना शामिल है। इसके अलावा, कई डिवाइस निर्माता अब तक ये समझ नहीं पाएं हैं कि सेंसर से जुड़े प्रोडक्ट्स से यूज़र डेटा का कैसे सही तरीके से इस्तेमाल करना है। नतीजा ये कि एंटरप्राइज़ ये पता नहीं लगा पाते कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या काम कर सकता है और उपभोक्ताओं को कैसे फायदा पहुंचा सकता है।

 

 

बिक्सबी- स्मार्ट होम को बनाएगा और भी खास

 

 

 

सैमसंग ने भी इस बात पर विचार किया है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कैसे उपयोगकर्ताओं के लिए खास हो सकती है, और इसी सोच के साथ बिक्सबी तैयार किया है, जो उसके इंटेलिजेंट इंटरफेस का पुनर्निर्माण है और जो पहले से ज़्यादा ओपन और पर्सनल है। सैमसंग कनेक्ट द्वारा संचालित, बिक्स्बी आपके कनेक्टेड डिवाइस ईकोसिस्टम जिसमें मोबाइल फोन, टीवी और होम अप्लायंस शामिल हैं के कंट्रोलिंग प्लेटफॉर्म की तरह काम करेगा।
वास्तव में, हम अपने फैमिली हब रेफ्रिजरेटर में बिक्सबी वॉइस को जोड़ रहे हैं। अब आप मौसम की जानकारी ले पाएंगे, अपनी शॉपिंग लिस्ट तैयार कर पाएंगे और किराने का सामान भी ले पाएंगे बस अपनी आवाज़ की मदद से। जैसे, अगर आपके घर में दूध नहीं है तो आप स्क्रीन से सीधा खाना मंगवाने के लिए कहेंगे, ‘हाय बिक्सबी, दूध ऑर्डर करो’।

 

फैमिली हब रेफ्रिजरेटर के साथ बिक्सबी वॉयस और सैमसंग कनेक्ट को जोड़ना क बड़ा कदम है — जिससे डेवेलपर्स को फूड, हेल्थ, होम मैनेजमेंट, एंटरटेनमेंट जैसे क्षेत्रों में नया कंटेंट, एप्लिकेशन्स और अनुभव विकसित करने का बड़ा अवसर मिलेगा।

 

हमें लगता है कि ये एक ऐसी चौथी लहर हो सकती है, जब आपके पूरे घर में ऐसे प्रोग्राम किए गए ऑब्जेक्ट्स हों, जो एक दूसरे से जुड़ें हों और व्यक्तिगत और सहज तरीके से एक साथ संचार कर पाएं। इस तरह से हम इंटरनेट से कनेक्ट करने वाले डिवाइसेज़ से आगे बढ़कर इंटेलिजेंस से कनेक्ट करने वाले डिवाइस की ओर बढ़ रहे हैं। इस नए युग को ही हम ‘इंटेलिजेंस ऑफ थिंग्स’ कह रहे हैं।

 

 

स्मार्ट दुनिया, बेहतर ज़िंदगी

 

इंटेलिजेंस ऑफ थिंग्स से संचालित दुनिया कई नए आयाम सामने ले आएगी। आज की दुनिया में, आपके आसपास की हर मशीन इंटेलिजेंस से सक्षम है, जो आपकी ज़रूरतों को पहचानती और समझती है। लेकिन हम अर्थपूर्ण इनोवेशन लाने के लिए और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की एंडवांस्ड टेक्नोलॉजी में डिजिटल बदलाव लाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं। हमें इससे ज़्यादा खुशी किसी और चीज़ से नहीं होगी कि हम वो बदलाव लाने में मदद कर सकें जो इस बदलते हुए नए युग को परिभाषित कर सके।

 

लेखक सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स में  स्मार्ट अप्लायंस और होम आईओटी के वाइस प्रेसिडेंट हैं

ग्राहक सेवा से संबंधित शिकायतों के लिए, samsung.com/in/support पर जाएं।
मीडिया से जुड़ी जानकारी के लिए, कृपया संपर्क करें corpcommindia@samsung.com

Sitemap

Top