कॉरपोरेट > टेक्नोलॉजी

प्रोडक्ट्स > मोबाइल फोन

चट फोटो पट अपलोड! सैमसंग सोशल कैमरा है ताबड़तोड़

on 22-08-2017
शेयर

 

 

कैमरा फोन्स ने पारंपरिक फोटोग्राफी की धारणा को ही बदल दिया है, जिसकी मदद से आज दुनिया के लाखों लोग अपने पसंदीदा पलों को फोन में कैद कर रहे हैं। एक और चीज़ जो तेज़ी से बढ़ रही है वो है कि कैसे लोग अपने खूबसूरत पलों को सोशल मीडिया पर तुरंत शेयर करने लगे हैं।

 

 

भारत का उदहारण लें, तो यहां दुनिया के सबसे ज़्यादा व्हाट्सएप और फेसबुक यूज़र्स हैं। तस्वीरें लेना और उन्हें सोशल नेटवर्क पर शेयर करना स्मार्टफोन्स का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला फीचर है।

 

 

स्मार्टफोन खरीदने के लिए कैमरा का एक अहम कारण बनना और सोशल मीडिया पर फोटो शेयर करने के बढ़ते ट्रेंड ने सैमसंग R&D इंस्टीट्यूट, बेंगलुरु (एसआरआई-बी) को युवाओं के लिए सोशल कैमरा विकसित करने की वजह दी है। एसआरआई-बी, कोरिया के बाहर सैमसंग का सबसे बड़ा R&D सेंटर है।

 

 

एसआरआई-बी के डायरेक्टर गिरीश कुलकर्णी ने कहा, ‘युवाओं से बातचीत में यह पाया गया कि फोटो को तुरंत शेयर करना और अपनी सोशल करेंसी यानि लाइक्स, कमेंट्स और फॉलोअर्स को बढ़ाना आज युवाओं की आवश्यकता बन गया है। जब एक बार खींची हुई फोटो गैलरी में पहुंचत जाती है, तो वो डेड मूमेंट बन जाती है और युवाओं को लगता है कि वह सोशल वर्ल्ड की रेस में पीछे रह गए हैं।’

 

 

 

 

सैमसंग का सोशल कैमरा यूज़र्स को झट से कंटेंट शेयर, एडिट और डिस्कवर करने में मदद करता है। यूज़र्स अपने फेवरेट कॉन्टैक्ट्स और सोशल मीडिया को कैमरे में ही पिन कर सकते हैं और फोटो खींचते ही उन पर क्लिक करके शेयर कर सकते हैं। इंस्टेंट एडिटिंग से उपभोक्ताओं को हाथों हाथ सोशल मीडिया के लिए आकर्षक कंटेंट तैयार करने में मदद मिलती है, जिसमें वो लाइव फिल्टर्स या लाइव स्टिकर्स लगाकर झट से सोशल मीडिया ऐप्स पर शेयर कर सकते हैं।

 

 

 

 

ऐसा करने से दूसरी एडिटिंग ऐप्स पर उपभोक्ताओं की निर्भरता कम हो जाती है। इंस्टेंट डिस्कवरी फीचर, ऑगमेंटेड रियेलिटी कैमरा में एक नया आयाम जोड़ देता है, जिससे यूज़र्स कैमरा के ज़रिए आसपास के मशहूर फोटोग्राफी स्पॉट्स, रेस्टोरेंट और शॉपिंग की जगहें ढूंढ सकते हैं।

 

 

 

 

सोशल कैमरा का विकास सैमसंग इंडिया की टीमों के बीच के सहयोग से हुआ है। एसआरआई-बी ने स्मार्टफोन कैमरा में सोशल शेयर, लाइव फिल्टर्स, लाइव स्टिकर्स डेवेलप किया, वहीं एसआरआई-नोएडा ने सोशल फुटप्रिंट-जियो लाइक और ऑगमेंटेड रियेलिटी पर काम किया है।

 

 

इस्टेंट शेयरिंग के लिए कॉन्टैक्ट्स और सोशल नेटवर्क को कैमरा पर ही पिन कर देने की योजना, जो यूज़र एक्सपीरियंस टीम के ग्लोबल पेंटेट में से एक है,  कैमरा के ज़रिए फोटो को तुरंत शेयर करने के यूनीक तरीके को पेश करती है। फोटो को खींचते ही शेयर करने की आवश्यकता से यूज़र के मन में कैमरा और गैलरी का गैप भी कम हो जाता है। उपभोक्ता कैमरा से जो भी खींचते हैं वो स्टोर किए जाने की बजाए तुरंत शेयर किया जा सकता है।

 

 

भारतीय उपभोक्ताओं के लिए सोशल कैमरा तैयार करने वाली एसआरआई-बी की टीम

 

 

एसआरआई-बी के वाइस प्रेसिडेंट डॉ. बल्विंदर सिंह ने कहा, ‘एक टीम के तौर पर हम गैलेक्सी J7 मैक्स और गैलेक्सी J7 प्रो के लिए सोशल कैमरा पेश करने में कामयाब रहे। हम उम्मीद करते हैं कि भारतीय उपभोक्ता सोशल कैमरा को बेहद पसंद करेंगे। हम पहले से ही इसे अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में पेश करने की और उसके बाद सैमसंग फ्लैगशिप स्मार्टफोन्स में स्थापित करने की योजना बना रहे हैं।’

 

 

बेंगलुरु में सैमसंग की मल्टीमीडिया टेक्नोलॉजी टीम, फ्लैगशिप गैलेक्सी स्मार्टफोन सीरीज़ के कैमरा और इनोवेटिव मल्टीमीडिया फीचर्स के लिए दुनिया के पहले और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सॉल्यूशन्स लगातार देता रहा है। यह सॉल्यूशन्स भारतीय उपभोक्ताओं की ज़रूरतों को ध्यान में रखकर विकसित किए गए हैं।

 

 

भारत की R&D टीम ने इससे पहले गैलेक्सी S7 कैमरा के लिए मोशन पैनोरामा फीचर के विकास में योगदान दिया था, जो उपभोक्ताओं को बारीकी से लाइव इवेंट्स को कैद करने में सक्षम बनाता है। इसके अलावा स्पॉटलाइट सेल्फी फीचर भी भारत में बनाया गया था, जो वर्चुअल लाइट के ज़रिए उपभोक्ताओं को स्टूडियो के जैसा परिवेश देता है।

 

 

 

 

एसआरआई-बी ने अवॉर्ड जीतने वाले सैमसंग गैलेक्सी S8 में भी 10-12 प्रमुख कैमरा मोड्स (फ्रंट और रियर) में भी योगदान दिया है। स्मार्टफोन के कुछ प्रमुख मल्टीमीडिया फीचर्स में लाइव मीडिया स्ट्रीमिंग, वीडियो हाईलाइट्स और इमेज एडिटिंग फंक्शन्स शामिल हैं।

ग्राहक सेवा से संबंधित शिकायतों के लिए, samsung.com/in/support पर जाएं।
मीडिया से जुड़ी जानकारी के लिए, कृपया संपर्क करें corpcommindia@samsung.com

Sitemap

Top